रांची रेल मंडल के लोधमा रेलवे स्टेशन पर परिचालन की आधुनिक पद्धति इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग लगाने के पश्चात नॉन इंटरलॉकिंग का दूसरे चरण कार्य दिनांक 14/07/2021 को पूरा किया गया ।

पहले चरण के पश्चात लोधमा स्टेशन के 2 लाइन इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग पद्धति प्रणाली द्वारा कार्यरत थे अब दूसरे चरण का कार्य पूरा होने के बाद 3 लाइन इलेक्ट्रॉनिक इंटरलॉकिंग पद्धति प्रणाली से कार्यरत है | भविष्य में लोधमा स्टेशन पर और 2 लाइन बनाने का प्रावधान किया गया है जिसका कार्य लगभग 100 दिनों में पूरा होने की संभावना है |

नॉन इंटरलॉकिंग ( प्री - नॉन इंटरलॉकिन तथा नॉन इंटरलॉकिंग ) के दूसरे चरण का कार्य कुल 8 दिनों में संपन्न हुआ, जिस दौरान कोचिंग एवं गुड्स ट्रेनों का परिचालन सुचारु रूप से किया गया |

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

इस पद्धति के द्वारा ट्रेनों की संरक्षा में वृद्धि होगी तथा ट्रेनों का परिचालन पहले से ज्यादा सुगम हो जाएगा ।

नॉन इंटरलॉकिंग का कार्य पूरा होने के अवसर पर लोधमा रेलवे स्टेशन पर अपर मंडल रेल प्रबंधक (इंफ्रा) श्री सतीश कुमार, उप मुख्य अभियंता (निर्माण) श्री राम प्रताप मीणा, वरिष्ठ मंडल परिचालन प्रबन्धक श्री अदित्या कुमार चौधरी, वरिष्ठ मंडल विद्युत अभियंता (ट्रेक्शन) श्री ए आर दास, मंडल विद्युत्त अभियंता (निर्माण) श्री एस एन मिश्रा, मंडल सिग्नल एवं दूरसंचार अभियंता (निर्माण) श्री अशोक तिवारी, मंडल संरक्षा अधिकारी श्री कविंद्र चौधरी, मंडल अभियंता (दक्षिण) श्री दीपक कुमार, सहायक मंडल परिचालन प्रबंधक श्री विभूति नारायण शर्मा एवं अन्य अधिकारी तथा कर्मचारी उपस्थित थे ।

must read