*Images by IPRD, Jharkhand

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि झारखंड में प्रतिभा की कमी नहीं है। हमारे युवाओं में काफी संभावनाएं है। स्टार्टअप के माध्यम से युवा न केवल व्यवसाय शुरू कर सकेंगे, बल्कि देश और दुनिया में अपनी प्रतिभा भी बिखेर सकेंगे। झारखंड सरकार स्टार्टअप को बढ़ावा देने के लिए काफी छूट प्रदान कर रही है। उक्त बातें उन्होंने झारखंड मंत्रालय में स्टार्टअप इंडिया झारखंड यात्रा 2018 के शुभारंभ के बाद कहीं।

मुख्यमंत्री ने कहा कि जिन लोगों ने स्टार्टअप पॉलिसी का लाभ लिया है, वे इसके प्रति लोगों में जागरूकता फैलायें, ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसका लाभ ले सकें। जरूरत होगी, तो सरकार पॉलिसी में और बदलाव करेगी।

--------------------------Advertisement--------------------------1000 days of Hemant Govt

मुख्यमंत्री ने कहा कि आइटी सेक्टर में भारत काफी आगे है। सॉफ्टवेयर के मामले में तो पूरी दुनिया में भारत के लोग डंका बजा रहे हैं। मोमेंटम झारखंड के दौरान अमेरिका यात्रा करने का मौका मिला। वहां भी बड़ी-बड़ी सॉफ्टवेयर कंपनियों की कमान भारतीयों के हाथों में ही है। इसी को बढ़ावा देने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने स्टार्टअप इंडिया की शुरुआत की है। आज स्टार्टअप में भारत अमेरिका और ब्रिटेन के बाद तीसरे स्थान पर है। हमें मिल कर इसे पहले स्थान पर लाना है। नौजवानों के लिए प्रधानमंत्री जी ने स्टार्टअप के साथ साथ स्टैंडअप इंडिया, स्कील इंडिया और डिजीटल इंडिया की शुरुआत की है। इनका असर देखने को मिल रहा है। 

कार्यक्रम में अच्छा काम करनेवाले 19 स्टार्टअप को सम्मानित किया गया। इसके बाद स्टार्टअप के प्रति जागरूकता फैलाने के लिए मुख्यमंत्री ने एक वैन को हरी झंडी दिखा कर रवाना किया। 

इस दौरान मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल, आइटी सचिव विनय कुमार चैबे, आइटी निदेशक उमेश प्रसाद साह समेत बड़ी संख्या में गण्यमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।

must read