झारखंड की राजधानी रांची की मांडर विधानसभा (आदिवासी सुरक्षित)सीट के लिए 23 जून को हो रहे उपचुनाव में निर्दलीय देव कुमार धान का चुनाव प्रचार करने एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी आज मांडर में एक जन सभा को सम्बोधित करते हुए JMM सरकार ओर भाजपा को जम कर कोशा.

साथ में 10 जून को हुए हिंसा मामले पर दोनों के खिलाओ जमकर भड़ास निकाली. उन्होंने छेत्र की जनता से अपने पार्टी के प्रत्याशी देव कुमार धान के पक्ष में वोट करने की अपील की।

असदुद्दीन ओवैसी रविवार के दिन 12 बजे रांची पहुंचें और यहां उनका कुल लगभग पांच घंटे का कार्यक्रम रहा।

मांडर विधानसभा के उप चुनाव 23 जून को और मतगणना 26 जून को होगी. औवैसी की चुनाव सभा चान्हो ब्लॉक में थी जहां प्रशासन ने उन्हें चुनावी सभी की अनुमति दी थी.प्रशासन ने ओवैसी की चुनावी सभा को देखते हुए रविवार को मांडर तथा रांची में सुरक्षा के विशेष इंतजाम किये थे.

मांडर में कांग्रेस की महागठबंधन समर्थित उम्मीदवार शिल्पी तिर्की का सीधा मुकाबला भाजपा की पूर्व विधायक गंगोत्री कुजूर से होने की संभावना है. 

लेकिन यहां से वर्ष 2019 का विधानसभा चुनाव भाजपा के टिकट पर लड़ चुके देव कुमार धान के भी चुनाव मैदान में उतरने से लड़ाई रोचक हो गयी है. हालांकि धान को इस बार यहां से पार्टी का टिकट नहीं देने वाली भाजपा ने चुनाव लड़ने के चलते पार्टी से निष्कासित कर दिया है. 

भाजपा ने इस सीट से इस बार वर्ष 2014 में पार्टी के टिकट पर चुनाव जीतने वाली गंगोत्री कुजूर को अपना उम्मीदवार बनाया है. 

झारखंड विकास मोर्चा के टिकट पर वर्ष 2019 में विधानसभा चुनाव लड़ने वाले बंधु तिर्की को हाल में भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई अदालत से तीन वर्ष कैद की सजा सुनाए जाने पर उनकी विधानसभा सदस्यता छीन ली गयी थी. इसके चलते इस सीट पर उपचुनाव कराने पड़ रहे हैं.

तिर्की को आय से अधिक संपत्ति के मामले में तीन वर्ष की सजा सुनायी गयी थी. झाविमो से कांग्रेस में शामिल हुए तिर्की की बेटी शिल्पी नेहा तिर्की को कांग्रेस ने मांडर से अपना उम्मीदवार बनाया है. शिल्पी को महागठबंधन के अन्य सदस्यों झामुमो एवं राजद ने भी अपना समर्थन दिया है. 

एआईएमआईएम नेता असदुद्दीन ओवैसी द्वारा  देव कुमार धान को चुनाव मैदान में रहने से, लड़ाई तीनकोनिये हो गई है. धान के अलावे,कांग्रेस की महागठबंधन समर्थित उम्मीदवार शिल्पी तिर्की का सीधा मुकाबला भाजपा की पूर्व विधायक गंगोत्री कुजूर से होने की संभावना है. 

-------Advertisement-------Jharkhand Janjatiya Mahoutsav-2022
-------Advertisement-------Har Ghar Tiranga
-------Advertisement-------

must read