*Images by IPRD, Jharkhand

मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य गठन के 19 साल बाद झारखंड को अपना नया विधानसभा मिलने जा रहा है। 12 सितंबर को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झारखंड के नए विधानसभा का उद्घाटन करेंगे। राज्य में 14 वर्ष तक राजनीतिक अस्थिरता रहने के कारण झारखंड को अपना नया विधानसभा भवन नहीं मिल पाया था। नए विधानसभा भवन के निर्माण को लेकर बाधाएं और चुनौतियां थी। परंतु वर्तमान सरकार ने दृढ़ इच्छाशक्ति दिखाते हुए सारी बाधाओं और चुनौतियों को स्वीकार कर राज्य की सबसे बड़ी पंचायत विधानसभा के निर्माण का रास्ता साफ किया और आज झारखंड का नया विधानसभा बनकर तैयार है। अलग राज्य निर्माण के बाद अभी तक झारखंड विधानसभा किराये के भवन में चल रही थी। राज्य में अपना विधानसभा बनना झारखंड की सवा तीन करोड़ जनता के लिए गर्व की बात है। ये बातें मुख्यमंत्री ने आज नया विधानसभा परिसर के अवलोकन करते हुए कही।
 

--------------------------Advertisement--------------------------Birsa Jayanti

हम झूठ की राजनीति नहीं करते] जो कहते हैं वो करते हैं
मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान सरकार जो कहती है उसे पूरा करती है। निर्माणाधीन नए विधानसभा परिसर का शिलान्यास इसी सरकार ने किया था और उसका उद्घाटन भी यही सरकार ही कर रही है। निर्धारित समय सीमा के अंतर्गत नए विधानसभा का कार्य पूरा हुआ है। सरकार ने विधानसभा के शिलान्यास के समय ही यह तय किया था कि जो लोग विस्थापित हो रहे हैं] उन्हें पहले बसाएंगे और सरकार ने वही किया। नए विधानसभा परिसर के निर्माण के लिए जो लोग विस्थापित हुए हैं उन्हें बगल में ही फ्लैट बनाकर सरकार ने पहले विस्थापितों को बसाने का कार्य किया है।

आरएनआर कॉलोनी में पौधरोपण करें
मुख्यमंत्री विधानसभा का निरीक्षण करने के बाद विस्थापितों की नवनिर्मित आरएनआर कॉलोनी गये। रघुवर दास ने कॉलोनी निरीक्षण के दौरान कहा कि कॉलोनी में पौधारोपण कर इसे हरा भरा बनायें।

must read