झारखंड राज्य के एक-एक उपभोक्ता परिवार तक निर्बाध एवं गुणात्मक विद्युत आपूर्ति सुनिश्चित करने की दिशा में हमारी सरकार कृतसंकल्प है। इसी कड़ी में आज 132/33 के०वी० (2 x 50 MVA) ग्रिड सब-स्टेशन, जरमुण्डी एवं संबंधित द्विपथ लिलो संचरण लाईन का ऊर्जान्वयन किया जा रहा है। 

इस ग्रिड सब-स्टेशन के मुख्य मंत्री हेमंत सोरेन द्वारा उद्घाटन होने से दुमका एवं देवघर जिले के विभिन्न क्षेत्र जैसे बासुकीनाथ तीर्थ स्थल, तालझारी, घोरमारा, जरमुण्डी, सोनारायथाड़ी आदि में बिजली की समस्या से लोगों को निजात मिल सकेगा। 

आने वाले समय में यह ग्रिड सब-स्टेशन अलग-अलग ग्रिडों से भी जुड़ेगा। बिजली की महत्ता से आज कोई भी अपरिचित नहीं है। बिना बिजली के विकास की कल्पना नहीं की जा सकती है। उक्त बातें मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने आज 132/33 के०वी० ग्रिड सब-स्टेशन जरमुंडी एवं 132 के०वी० द्विपथ लिलो संचरण लाइन का ऑनलाइन उद्घाटन करते हुए कही।

मुख्यमंत्री ने कहा कि मैं आज झारखण्ड ऊर्जा विकास निगम लिमिटेड एवं झारखण्ड ऊर्जा संचरण निगम लिमिटेड के पदाधिकारियों, कर्मचारियों को अपनी शुभकामनाएं देता हूँ जिन्होंने राज्य के प्रत्येक व्यक्ति को निर्बाध एवं गुणात्मक बिजली पहुँचाने का दृढ़ संकल्प लिया है। मैं उद्घाटन समारोह स्थल पर उपस्थित सभी प्रशासनिक पदाधिकारियों एवं आप सभी सम्मानित नागरिकों को इस कार्य के सफल संपादन में सहयोग प्रदान करने हेतु धन्यवाद देता हूं।

*निर्बाध बिजली आपूर्ति लक्ष्य*

मुख्यमंत्री ने कहा कि दुमका एवं देवघर जिला में बिजली में जो कमी आ रही थी, अब वहां निर्बाध बिजली सप्लाई की जा सकेगी। अब 80 मेगावाट अतिरिक्त बिजली मिलने से बासुकीनाथ तीर्थ स्थल, तालझारी, घोरमारा, जरमुण्डी, सोनारायथाड़ी आदि क्षेत्रों में निर्बाध एवं क्वालिटी बिजली आपूर्ति होगी। इन क्षेत्रों के लाखों लोग प्रत्यक्ष अथवा अप्रत्यक्ष रूप से लाभान्वित होंगे एवं बिजली के वर्त्तमान लो वोल्टेज की समस्या से निजात मिल जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि आज काफी शुभ दिन है। देवघर एवं दुमका जिले में बाबा बासुकीनाथ एवं श्रावणी मेला के शुभारंभ के साथ-साथ इस महत्वपूर्ण समय में यहां पावर ग्रिड सब-स्टेशन का भी शुभारंभ हो रहा है। यह ग्रिड सब-स्टेशन आज से यहां की जनता की सेवा के लिए कार्य करेगा। 

मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि बिजली ग्रिड सब-स्टेशन मकान के पिलर की तरह होता है। राज्य में निर्बाध बिजली के आपूर्ति हेतु बड़े पैमाने पर क्षेत्रवार बिजली ग्रिड सब-स्टेशन बनाने का कार्य राज्य सरकार कर रही है। ग्रिड सब-स्टेशन बनने से बिजली सप्लाई में आ रही रुकावटें और लो वोल्टेज की समस्या का समाधान किया जा सकेगा।

*उपभोक्ता परिवारों को 100 यूनिट बिजली मुफ्त दे रही राज्य सरकार*

उद्घाटन स्थल पर उपस्थित जनमानस को ऑनलाइन संबोधित करते हुए मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन ने कहा कि हमारी सरकार बेहतर बिजली आपूर्ति के साथ-साथ वैसे उपभोक्ता परिवार जिनकी मासिक खपत एक सौ यूनिट से कम है उन्हें मुफ्त बिजली उपलब्ध कराया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारी सरकार जनकल्याण एवं संवेदनशीलता के साथ कार्य कर रही है। हमारी सरकार ने बकाए बिजली बिल पर भी राहत देने का कार्य किया है। बिजली बिल बकायेदार परिवारों को किस्तों में धीरे-धीरे बिजली बिल के पैसे चुकाने का भी प्रावधान राज्य सरकार ने किया है।

मुख्यमंत्री ने उद्घाटन समारोह स्थल पर उपस्थित लोगों से अपील किया कि बेहतर एवं गुणात्मक बिजली सेवा बहाल करने में जनभागीदारी भी अत्यंत महत्वपूर्ण है। मुख्यमंत्री ने कहा कि आप ग्रामीण भी वैसे असामाजिक तत्वों पर ध्यान रखें जो बिजली व्यवस्थाओं पर चोट पहुंचाने का काम करते हैं। अक्सर असामाजिक तत्वों द्वारा तार चोरी सहित के विभिन्न तरह के नुकसान पहुंचाने की सूचनाएं प्राप्त होती हैं। इन सभी चीजों पर रोक लगाने हेतु आम जनता का ध्यान होना भी आवश्यक है।

*बिजली के क्षेत्र में राज्य सरकार प्रतिबद्धता के साथ कर रही कार्य*

इस अवसर पर कृषि मंत्री श्री बादल पत्रलेख ने उद्घाटन स्थल से अपने स्वागत संबोधन में कहा कि दुमका एवं देवघर जिला के लिए आज विशेष दिन है। जरमुंडी के तालझारी में 132/33 के०वी० ग्रिड सब-स्टेशन जरमुंडी एवं 132 के०वी० द्विपथ लिलो संचरण लाइन का उद्घाटन होना राज्य सरकार की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री श्री हेमन्त सोरेन के नेतृत्व में राज्य में निर्बाध बिजली आपूर्ति के क्षेत्र में निरंतर ऐतिहासिक काम किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार के प्रति आम जनता का विश्वास बढ़ा है। अब इन क्षेत्रों में उपभोक्ता परिवारों को बिजली की समस्या से निजात मिलेगी। वर्तमान सरकार से राज्य वासियों को काफी अपेक्षा और उम्मीदें हैं। मुझे विश्वास है कि राज्य सरकार आम जनमानस की अपेक्षाओं और उम्मीदों पर खरा उतरेगी।

इस अवसर पर मुख्यमंत्री आवासीय कार्यालय से राज्य के मुख्य सचिव श्री सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव श्रीमती वंदना डाडेल, मुख्यमंत्री के सचिव श्री विनय कुमार चौबे, झारखंड बिजली वितरण निगम लि० के निदेशक श्री के० के० वर्मा ऑनलाइन उपस्थित थे वहीं उद्घाटन समारोह स्थल में उपायुक्त दुमका श्री रविशंकर शुक्ला सहित अन्य पदाधिकारी, जनप्रतिनिधि तथा आम जनता बड़ी संख्या में उपस्थित थे।
 

-----------------------------Advertisement------------------------------------Abua Awas Yojna 

must read